शनिवार, 19 जुलाई 2008

शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी

पिछले दिनों एक खबर पढ़ी जिसने थोड़ी राहत दी, शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने यह निर्णय लिया है कि सिख धर्म को मानने वाले कन्या भ्रूणों को ना मारें अगर वे लड़िकयों को पालने में रूचि नहीं है तो वे गुरुद्वारों के बाहर रखे पालनों में बच्चियों को छोड़ जाएं, इन बच्चियों का पालन-पोषण एसजीपीसी और गुरुद्वारे करेंगे। आगे देखें - बहस : भ्रूण हत्या

0 विचार मंच:

हिन्दी लिखने के लिये नीचे दिये बॉक्स का प्रयोग करें - ई-हिन्दी साहित्य सभा

एक टिप्पणी भेजें